Spam score Kya hai aur isko kaise kam kare

नमस्कार दोस्तों,आज का हमारा topic है Spam score kya hai aur isko kaise kam kare.

Guys ,जब हम new Blogging शुरू करते है तो हमे सबसे पहले यही सिखाया जाता है की अपने पेज को Google पर रैंक करवाने के लिए हमे उसका SEO करना होता है।

मेरी पिछली post SEO क्या है में आपने onpage SEO or OffPage Seo दोनों के बारे में पढ़ा होगा।

दोस्तों, Most Of the Time हमे यह कहाँ जाता है की अगर आप offpage Seo नहीं करेंगे तो आपकी पोस्ट Google के search में नहीं आएगी।

Offpage SEO का मतलब है Backlinks बनाना।

परन्तु दोस्तों ,क्या आपको पता है backlink बनाने का सही तरीका क्या है।

अगर आप गलत तरीके से बैकलिंक बनाते है तो उसका आपकी वेबसाइट पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

दोस्तों , अपनी पोस्ट को रैंक करवाने के लिए हम अंधाधुंद बैकलिंक बनाने लगते है ,यह भी नहीं चेक करते की वेबसाइट की authority क्या है और उसका स्पैम स्कोर कितना है।

इसका रिजल्ट हमारी वेबसाइट का High spam score होता है। हाई स्पैम स्कोर की वजह से हमारी वेबसाइट गूगल पर रैंक नहीं होती है।

चलिए दोस्तों अब हम स्पैम स्कोर क्या है को समझने की कोशिश करते है।

Spam Score kya hai ?-

चलिए ,दोस्तों अब हम डिटेल में समझते है स्पैम स्कोर क्या है।

Spam score , Moz.com कंपनी द्वारा निर्धारित किया गया एक parameter है। यह google की बहुत सारे parameter को ध्यान में रख कर बनाया गया है।

इसके द्वारा हमे यह जानकारी मिलती है की एक website की google के ऊपर क्या Authority है।

क्या उस website की गूगल के सामने कुछ reputation है या नहीं।

Spam Score को percentage में मापा जाता है।

अगर आपकी website 1%-30% के बीच में आती है तो आपका स्पैम स्कोर कम माना जाता है।

अगर आपकी website 31%-60% के बीच में आती है तो आपका spam score मध्यम में आता है।

इसका मतलब google signal दे रहा है की अपना spam score कम करो नहीं तो आपकी website Google पर ban हो जायगी।

अगर आपका spam score 60%- 100% के बीच में है तो आपकी website का स्पैम स्कोर बहुत ज्यादा है , इसका मतलब google ने आपकी website को ban या Blacklist कर दिया है।

I think Friends, अब आपको समझ आ गया होगा स्पैम स्कोर क्या है।

Also, Read- Keyword Placement kaise Karte hai

Spam score kaise bhdta hai-

दोस्तों ,अगर आप Moz.com का official ब्लॉग पढ़ते है तो उन्होंने करीब 27 Reasons बताये है स्कोर बढ़ने के , जिस में से ,में आपको कुछ important Reasons detail में बतऊँगा।

1) High Spam Score Website से बैकलिंक –

दोस्तों , जब हम अपने ब्लॉग्गिंग की शुरूवात करते है तब हम बिना सोचे समझे किसी भी website से backlink बना लेते है और यही हमसे गलती हो जाती है।

Guys , किसी भी website से backlink बनाने से पहले उसका स्पैम Score चेक करना जरूरी है , क्योकि अगर किसी website का spam score ज्यादा होगा तो वह आपकी वेबसाइट को भी negative impact करेगा जिससे आपकी वेबसाइट का भी स्पैम स्कोर बढ़ जायगा।

इसलिए बैकलिंक बनाने से पहले उस वेबसाइट का Score चेक कर ले।

2) कम referring Domain से बहुत सारे बैकलिंक –

दोस्तों , अगर आप भी यही प्रैक्टिस follow करते है तो आपका स्कोर भी हाई हो सकता है।

क्योकि Google Natural Backlinks को ज्यादा prefer करता है।

अगर आप एक ही वेबसाइट से बहुत सारे बैकलिंक बना लेंगे तो वह Unnatural links की catogery में आ जायगा और गूगल आपको penalize कर देगा।

जिसके परिणाम के तोर पर आपका स्कोर हाई हो जायगा।

3) Do follow and No follow Link Ratio-

अगर आप अपने बैकलिंक्स का ratio maintain नहीं करते है तो भी गूगल आपको penalize कर देगा।

According to Moz आपको 80% to 20 % का ratio बना कर रखना है। जिसमे 80% Dofollow Backlinks or 20% nofollow backlinks होने चाहिए।

4) Thin Content-

Thin content का मतलब है आप बहुत ही short post लिखते है। शार्ट पोस्ट का मतलब है आप 300 से 500 words का पोस्ट लिखते है।

और आपकी पोस्ट कुछ uniqueness नहीं provide करती है।

Google thin content को भी penalize देता है जिसका रिजल्ट हाई स्पैम score है।

इसलिए आपको ज्यादा से ज्यादा word का content लिखना चाहिए।

5) Interlinking or External Linking-

दोस्तों,आपको अपनी interlinking और External Linking का ratio भी maintain रखना है।

अगर आपकी website में ,Internal linking कम और external linking ज्यादा है तो भी google आपको panalize कर सकता है।

इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए 1200 words पर 1 Extrenal Linking बनाये और internal linking और external linking का ratio maintain करे।

6) External Linking In Navigation Bar-

दोस्तों, अगर आप अपनी website के Top या Bottom नेविगेशन bar में किसी other website की लिंकिंग करते है तो भी आपके spamscore बढ़ने के चान्सेस होते है।

7) Domain Name Length-

Guys, I think this a Most Important Factor क्योकि गूगल उन domains को penalize कर देता है जिनकी length कुछ ज्यादा ही बड़ी है।

इसलिए domain Buy करते समय उसकी length Short रखे।

8) Domain Contain Numerical Character-

आपको कभी भी ऐसे domain नहीं Choose करने चाहिए जिनके अंदर कोई numeric Character हो।

Like- indo12.com

इससे भी आपकी वेबसाइट blacklist हो सकती है।

Also,Read- Youtube Like and dislike hide

Spam score kaise check kare-

दोस्तों , spam score चेक करने के लिए आपको बस Moz Extension की जरूरत है।

सबसे पहले आपको Chrome Extension में जा कर Moz Extension को इनस्टॉल कर ले।

अब आपको अपने chrome के Topbar पर manage Extension का बटन दिख जायगा।

यहाँ पर क्लिक करे और moz की एक्सटेंशन को enable कर दे।

फिर आपको Moz की मुख्य website पर जा कर अपनी gmail id से signup करना है।

signup करने के बाद आपको moz में login कर लेना है।

अब अपनी वेबसाइट को open कर ले ,आपको top में साइड में moz extension दिख रही होगी उस पर क्लिक करे।

एक ब्लैक कलर की पट्टी display होने लग गयी होगी। इस पट्टी पर आपको DA,PA और आखरी में स्पैम स्कोर दिख रहा होगा।

यहां से अपना ss check कर ले।

Spam score kaise kam kare-

दोस्तों, स्पैम स्कोर करने के लिए सबसे पहले आपको Bad backlinks का पता करना होगा।

मतलब आपकी वेबसाइट से कितने bad backlinks बने है।

इसके लिए आप किसी भी tool का use का कर सकते है।

में आपको moz का process समझाऊंगा। moz पर आप सबसे पहले login कर ले।

homepage पर आपके सामने anlayze your domain का option आएगा।

यहां पर अपनी वेबसाइट का url put करे और analyze button पर क्लिक करे।

मोज़ आपके सारी वेबसाइट को analyze कर लेगा। अब आपको lefthand side में spamscore का ऑप्शन दिख रहा होगा।

इस पर क्लिक करे अब आपके सामने सारी वेबसाइट की list खुल जायगी जिससे भी अपने बैकलिंक बनाई है। यहाँ पर उनके SS भी दिख रहे होँगे।

आप इनकी एक Notepad पर लिस्ट बना ले।

Disavow tool-

अब आप गूगल पर Disavow Tool Type और जैसे ही आप इस पर क्लिक करते है तो आपके सामने एक पेज open हो जायगा Disavow Link .

यहां पर आप अपनी property select कर ले जिसका भी आप बैकलिंक डिसावौ करने चाहते है।

फिर आप disavow link पर क्लिक करे।

अब आपके सामने एक पेज ओपन होगा जिस पर choose File का option आ रहा होगा।

यहाँ पर आपको TXT में फाइल बना के अपलोड कर देनी है।

Dont worry आपको कैसे फाइल बनानी है उसका ऑप्शन भी disavow टूल के पेज पर मिल जायगा।

इसके बाद सबमिट पर क्लिक कर दे। गूगल लिंक्स को Analyse कर के आपकी वेबसाइट से रिमूव कर देगा।

Also, Read- Jio pages Browser kya hai

Spam score बढ़ने se bachne ke क्या liye kare-

1)दोस्तों , अगर आप चाहते है आपकी वेबसाइट का स्पैम स्कोर नहीं बढे तो आपको किसी भी वेबसाइट से बैकलिंक बनाने से पहले उसका SS जरूर check चेक करना चाहिए।

2) हमे Google की नज़र में अपनी वेबसाइट की Reputation building पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

इसके लिए आपको बहुत सारे हाई quality के पोस्ट लिखने होँगे और content length भी लम्बी होनी चाहिए।

3) आपको अपने Dofollow or Nofollow backlinks के ratio को maintain करना होगा।

4) Internal Linking or External Linking के ratio को भी maintain करना होगा।

5) आपको spam links नहीं बनानी है , आपको simple तरीके से बैकलिंक्स बनानी है

Spam score Increase hone par website par kya prebhav padta hai-

1) आप कितना अच्छा content kyu nhi likhe , चाहे आप अपने कंटेंट की length कितनी लम्बी क्यों नहीं कर ले ,आपकी वेबसाइट गूगल पर कभी भी रैंक नहीं कर पाएगी।

2) गूगल आपकी वेबसाइट को Blacklist और Ban कर देता है।

3) स्पैम स्कोर बढ़ने से आपकी वेबसाइट की Authority भी decrease होती है।

Final words on Spam score kya hai aur isko kaise kam kare-

दोस्तों , मुझे आशा है आज के आर्टिकल Spam score kya hai aur isko kaise kam kare से आपके सभी doubts clear हो गए होँगे।

मेरी आपको एक सलाह है , आप जब भी बैकलिंक्स बनाए उससे पहले आप वेबसाइट का स्पैम स्कोर जरूर चेक करे।

आपको natural तरीके link building पर ध्यान देना है और कोशिश करनी है किसी reputated वेबसाइट से ही बैकलिंक्स बनाए।

आशा है आपको आज की पोस्ट पसंद आयी होगी।

में इसी तरह की knowledebal post लाता रहूंगा।

Categories SEO

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Share via
Copy link
%d bloggers like this: