Dofollow or Nofollow Backlink ka Pata kaise kare

नमस्कार दोस्तों , आपका हमारे ब्लॉग पर स्वागत है आज में आपको Dofollow or Nofollow backlink ka Pata kaise kare यह सिखाऊंगा।

दोस्तों , website को Google पर Rank करवाने के लिए बैकलिंक एक बहुत ही important Factor है।

अगर आप low Competition Keyword को Target कर रहे है तो आप केवल Onpage SEO की मदद से भी अपनी website को Google पर Rank करवा `सकते है।

परन्तु अगर Keyword Competitive है तो आपको Onpage SEO के साथ साथ Offpage SEO का भी सहारा लेना होगा।

आपकी वेबसाइट को Google के ऊपर Rank करवाने के लिए आपको Do follow backlinks बनाने की जरूरत होती है।

परन्तु हमारे पास कोई ऐसी Technique नहीं होती है जिससे हम पता कर सके की जो हमने बैकलिंक बनाई है, Actual में वह Dofollow है या Nofollow है।

आपकी इसी समस्या को हल करने के लिए आज में यह आर्टिकल लिख रहा हूँ , जिसको पढ़ने के बाद आप पता कर पायँगे की आपने जो बैकलिंक्स बनाई है वह किस nature की है।

चलिए दोस्तों अब हम बैकलिंक्स के बारे में थोड़ा overview ले लेते है।

बैकलिंक क्या है?

दोस्तों, बैकलिंक का nature identify करने से पहले में आपको backlink का थोड़ा overview दे देता हूँ।

backlink का मतलब होता है अपनी website को किसी दूसरी website के साथ connect करना , अगर सीधे शब्दो में कहाँ जाए तो अपनी website का लिंक किसी अन्य website पर पाया जाना।

बैकलिंक हम खुद से भी बनाते है व कई अन्य वेबसाइट हमारी वेबसाइट के लिंक को अपनी वेबसाइट से जोड़ लेती है।

backlink बनाने का मुख्य लक्ष्य होता है Google को अपनी website की Presence बताना होता है।

अगर हमारी website का link किसी Authority website के साथ जुड़ जाता है तो वह Authority website हमारी website की Authority भी increase करती है।

जिसका परिणाम हमारी website पर organic Traffic आने लगता है।

Dofollow Vs Nofollow Backlinks-

दोस्तों, अब में आपको Dofollow और Nofollow Backlinks के बीच में क्या अंतर होता है वह भी बता देता हूँ।

Nofollow बैकलिंक एक ऐसी बैकलिंक होती है जिसको Google Bot pass नहीं करता है। इसका सीधा सा मतलब है Google की नज़र में इस बैकलिंक की ज्यादा value नहीं होती है।

Human ही इसी बैकलिंक को पास कर सकता है। इस बैकलिंक को बनाने का मुख्य लक्ष्य होता है अपनी website के ऊपर Traffic को increase करना होता है।

Nofollow बैकलिंक्स से हमे लिंक जूस भी नहीं मिलता है।

इसके विपरीत dofollow backlinks वह बैकलिंक होती है जिसको human व Google दोनों उसको pass कर पाते है।

Dofollow बैकलिंक से हमे लिंक जूस मिलता है , जिससे हमारी वेबसाइट की Ranking और Traffic दोनों improve होते है।

परन्तु According To Google हमे Dofollow और Nofollow के बीच में balance बना के रखना चाहिए , तभी हमारी website को फायदा पोहचता है।

Also, Read- Youtube Channel par cover photo kaise lagaye

Dofollow aur Nofollow Backlinks ka pata kaise kare-

दोस्तों, बैकलिंक डूफ़ॉलो है या नोफ़ॉलो है इसका पता करने के लिए हम moz के Extension का use करेंगे।

सबसे पहले आपको google पर Type करना है Chrome Web Store .

आपके सामने Chrome web Store की website आ जायगी , आपको इस पर क्लिक करना है।

आपको लेफ्ट साइड में search का Option नज़र आ रहा होगा।

आपको इसके अंदर Moz type करके , Enter click करना है।

आपके सामने moz bar की Extension आ जायगी , आपको इस पे क्लिक करना है।

अब आपको यहाँ पर install का button नज़र आ रहा होगा। आपको simply इस पर क्लिक करके , इसको इनस्टॉल कर लेना है।

install करने के बाद आपको moz की extension को Activate करना होगा।

Next Step में आपको Moz के ऊपर अपना Account बनाना होगा , इसके लिए आपको मोज़ की official वेबसाइट को open कर लेना है।

यहाँ पर आपको signup का button नज़र आ रहा होगा , signup पर click करके आपको कुछ necessary information fill करके अपना Account create कर लेना है।

अब आपके पास Extension भी है और आपका मोज़ के ऊपर Account भी create हो चुका है।

अब में आपको किसी प्रकार बैकलिंक को check करते है वह बताता हूँ।

Dofollow aur Nofollow Kaise check kare-

अब आपको वह वेबसाइट open करनी है जिसके आप links चेक करना चाहते है।

अब आपको moz की extension के ऊपर क्लिक करना है , आपके सामने एक black Colour की पट्टी आ जायगी।

इस पट्टी के ऊपर website की DA ,PA और स्पैम स्कोर लिखा हुआ होगा।

आपको इसके ऊपर एक pencil का button भी दिखाई दे रहा होगा , इस पर क्लिक करे।

आपके सामने एक new पट्टी आ जायगी , इसके ऊपर Followed और No-followed लिखा मिलेगा।

जैसे ही आप Followed के ऊपर क्लिक करेंगे , यह website के सभी Dofollow links को Highlight कर देगा।

same इसी प्रकार आप No-Followed के ऊपर क्लिक करेंगे तो आपकी वेबसाइट के सभी Nofollow link हाईलाइट हो जायँगे।

दोस्तों , इस प्रकार आप डूफ़ॉलो और नोफ़ॉलो बैकलिंक्स का पता कर सकते है।

Also, Read – Is motivation Topic Best For Blogging

Without Using Any Tool Dofollow aur Nofollow link ka pata kaise kare-

दोस्तों, इसके लिए हमे केवल अपने कंप्यूटर के Mouse पर Right click करना है , आपके सामने एक new page आ जायगा।

यहाँ पर आपको सबसे last में Inspect का option दिख रहा होगा, इस पर क्लिक करे।

आपके Right-hand side में new Page आ जायगा, इस पेज पर top में आपको Arrow का निशान दिख रहा होगा , आपको उस पर click करना है।

अब आपको जिस भी link को check करना है , उस पर mouse के cursor को ले जाए , Right side में आपको उस link का status दिखाई देगा।

अगर link, Nofollow होगा तो उसमे Nofollow का Attribute दिख जायगा।

अगर link, Dofollow है तो उसमे किसी भी प्रकार Attribute नहीं दिखाई देगा।

दोस्तों , आप इस सिंपल से method से डूफ़ॉलो और नोफ़ॉलो बैकलिंक्स का पता कर सकते है।

Dofollow और Nofollow के बीच में कितना Ratio होना चाहिए। –

दोस्तों , विभिन tools के अनुसार डूफ़ॉलो और नोफ़ॉलो के बीच में 80 :20 का ratio होना चाहिए।

आपकी वेबसाइट यह Ratio maintain करती है तो उसकी Google के ऊपर Rank करने के ज्यादा chances बन जाते है।

Final Words on Dofollow or Nofollow backlink ka Pata kaise kare-

दोस्तों , आज के आर्टिकल के माध्यम से मैंने आपको Backlinks का एक छोटा सा overview दिया है।

Near Future में आपके लिए Backlinks से Related और भी ज्यादा Important Information लाने की कोशिश करूँगा।

आज के पोस्ट में मैंने बैकलिंक का nature कैसा है , उसको कैसे identify करे के बारे में detail में समझने की कोशिश की है।

मेरी कोशिश यही रही है आपको में detail में समझा पाऊ की आप किस प्रकार Dofollow और Nofollow बैकलिंक को पहचान सकते है।

एक ब्लॉगर के रूप में आपको डूफ़ॉलो और नोफ़ॉलो के बीच में अंतर पता होना जरूरी है।

आज की पोस्ट के माध्यम से आप दोनों के बीच अंतर कर पायंगे।

आशा है आपको आज की post Dofollow or Nofollow backlink ka Pata kaise kare पसंद आयी होगी।

Categories SEO

Leave a Reply

error: Content is protected !!
Share via
Copy link
%d bloggers like this: